Saturday, May 25, 2024

कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी स्तर पर सतर्कता आवश्यक

More articles

Vijaya Dimri
Vijaya Dimrihttps://bit.ly/vijayadimri
Editor in Chief of Uttarakhand's popular Hindi news website "Voice of Devbhoomi" (voiceofdevbhoomi.com). Contact voiceofdevbhoomi@gmail.com

देहरादून  :-  कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी स्तर पर सतर्कता आवश्यक है, इसके लिए सभी उप जिलाधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में नियमित चैकिंग अभियान चलाते हुए मानकों का पालन ना करने वालों के विरूद्ध कार्यवाही करें’’ यह बात जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने वर्चुअल माध्यम से आयोजित कोविड समीक्षा बैठक में कही। मुख्य चिकित्साधिकारी सहित समस्त उप जिलाधिकारी, एवं चिकित्साधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने कहा कि कुछ दिनों से देखा जा रहा है कई लोग बिना मास्क और शारीरिक दूरी का पालन नही कर रहे हैं, यह कतई उचित नहीं है, इस लापरवाही के बहुत गम्भीर परिणाम हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में और अधिक सक्रिय रहते हुए कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण कार्य के साथ ही सावधानी बहुत आवश्यक है इसमें किसी चूक के लिए कोई स्थान नहीं है। उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में विशेष सतर्कता बरतने तथा इस कार्य में पुलिस की सहायता ली जाए। उन्होंने कहा विशेषकर बाजारों, रेलवे स्टेशन, बस स्टाॅप, पर्यटन स्थलों पर कड़ी निगरानी रखने की आवश्यकता है। उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियेां को इसके लिए लाउडस्पीकर आदि वाहनों के माध्यम निरंतर जागरूक करने के साथ ही मानको का पालन ना करने वालों को चेतावनी जारी करें। अवगत कराया गया कि सामाजिक दूरी एवं मास्क ना उपयोग करने वालों के विरूद्ध चालान की कार्यवाही की गई जिनमें चकराता, कालसी 45 एवं त्यूनी में 11, विकासनगर में 68, तहसीलसदर क्षेत्रान्तर्गत 215, मसूरी में 40 तथा ऋषिकेश में 40 व्यक्तियों को चालान जिला प्रशासन की टीम द्वारा दिये।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी सहित समस्त एमओआईसी को निर्देशित किया कि दीर्घकालिक व्यवस्था के अन्तर्गत सभी चिकित्सालय अपनी पूर्ण तैयारी कर लें तथा जिन चिकित्सालयों ने उपकरण एवं अन्य व्यवस्था हेतु कार्यदेश नही किये हैं वे तत्काल कार्यदेश करना सुनिश्चत करें। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को समस्त चिकित्सालयों में क्षमता के अनुसार आक्सीजन सिलेण्डर प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होंने समस्त एमओआईसी को निर्देश दिये कि जिन पर्वतीय/ग्रामीण क्षेत्रों में कोविशील्ड एवं कोवैक्सीन की दूसरी डोज लगनी है कि योजनाबनाकर मोबाईल टीमें भेजने के निर्देश दिये साथ ही टीमें भेजने से पूर्व सम्बन्धित ग्राम प्रधान एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि से सम्पर्क कर क्षेत्रीय जनता की सुविधा अनुसार टीकाकरण कार्य करवायें।
जिलाधिकारी डाॅं0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत प्राप्त हुई रिपोर्ट में 15 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में आतिथि तक कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 1109486 हो गयी है, जिनमें कुल 107300 व्यक्ति उपचार के उपरान्त स्वस्थ हो गये हैं। वर्तमान में जनपद में 306 व्यक्ति उपचाररत हैं। आज जांच हेतु कुल 7886 सैम्पल भेजे गए। आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा आज 42031 व्यक्तियों का सर्विलांस किया गया जिनमें 03 व्यक्तियों में कोविड संक्रमण के लक्षण पाए गए। जनपद में जिला प्रशासन द्वारा 02 तथा विभिन्न विकासखण्डों में 09 होम आयशोलेशन किट का वितरण किया गया। इसी प्रकार आज कोविड कन्ट्रोलरूम से होमआयशोलेशन में रह रहे 108 व्यक्तियों से सम्पर्क कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त की गई।

spot_img

Latest

error: Content is protected !!