Saturday, May 25, 2024

 जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार स्वंय सितम्बर में 10 से 15 सितम्बर के बीच तहसील त्यूनी क्षेत्र के ग्राम बाणा चिल्हाड़ का भ्रमण कर लोगों की समस्याओं विकास योजनाओं को स्थलीय निरीक्षण करेगें

More articles

Vijaya Dimri
Vijaya Dimrihttps://bit.ly/vijayadimri
Editor in Chief of Uttarakhand's popular Hindi news website "Voice of Devbhoomi" (voiceofdevbhoomi.com). Contact voiceofdevbhoomi@gmail.com

देहरादून  :-   जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने माह सितम्बर 2021 में सीडीओ राजस्व विभाग के अधिकारियों को जनपद के दूरस्थ क्षेत्रों की जन समस्याओं के समाधान व विकास योजनाओं का निरीक्षण करने हेतु भ्रमण सम्बन्धी रोस्टर का निर्धारण किया गया है।
भ्रमण संबंधी रोस्टर आदेश जारी करते हुए बताया कि वे स्वंय माह सितम्बर में 10 से 15 सितम्बर के बीच तहसील त्यूनी क्षेत्र के ग्राम बाणा चिल्हाड़ का भ्रमण कर लोगों की समस्याओं विकास योजनाओं को स्थलीय निरीक्षण करेगें। इसी प्रकार मुख्य विकास अधिकारी 16 सितम्बर से 30 सितम्बर के मध्य सहसपुर विकासखण्ड के शंकरपुर हकुमतपुर, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) 15 से 25 सितम्बर के मध्य कालसी विकासखण्ड के व्यासनहरी, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व), 25 से 30 सितम्बर के मध्य चकराता विकासखण्ड के जोगियो, उपजिलाधिकारी ऋषिकेश 15 से 30 सितम्बर के मध्य डोईवाला विकासखण्ड के गडूल ग्राम, उपजिलाधिकारी सदर रायपुर विकासखण्ड के ग्राम सिल्ला, उपजिलाधिकारी विकासनगर 15 से 30 सितम्बर के मध्य विकासनगर विकासखण्ड के ग्राम पपडियान उपजिलाधिकारी डोईवाला विकासखण्ड के ग्राम तलाई तथा उपजिलाधिकारी चकराता विकासखण्ड चकराता के ग्राम मसक का भ्रमण करने के अलावा सभी उपजिलाधिकारी जन शिकायतों एवं अन्य समस्याओं के साथ ही यथा सम्मुख आपत्ती विवाद से संबंधित मामलों को चैपाल/भ्रमण के दौरान सुलझाने का प्रयास करेंगे।
जिलाधिकारी ने बताया कि रोस्टर अनुसार सभी तहसीलदार 10 से 30 सितम्बर के मध्य 2 ग्रामों का स्थलीय निरीक्षण करेंगे, जिसके तहत तहसीलदार ऋषिकेश डोईवाला विकासखण्ड के भोगपुर, तहसीलदार सदर सहसपुर विकासखण्ड के ग्राम विकासनगर क्यारकुली भट्टा, तहसीलदार विकासनगर विकासखण्ड के विकासनगर के ग्राम सोरना, तहसीलदार डोईवाला के विकासखण्ड डोईवाला नागल ज्वालापुर तथा तहसीलदार चकराता कालसी विकासखण्ड के ग्राम उदपाल्टा का भ्रमण करेंगे। उन्होंने बताया कि क्षेत्र भ्रमण के दौरान विद्युत, पेयजल, सड़क, शिक्षा, खाद्यान, गैस आपूर्ति, विकास योजनाओं, दैवीय आपदा से प्रभावित परिसम्पत्तियों, कृषि, बागवानी, भू-अभिलेख, अवैध अतिक्रमण के साथ ही निरीक्षण के दौरान प्रकाश में आए सुझाव पर कार्यवाही करेंगे। उन्होंने बताया कि उपजिलाधिकारी एवं तहसीलदार एक ही दिवस पर भ्रमण पर नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी अपने भ्रमण की जानकारी स्थानीय स्तर पर समाचार पत्रों, ग्राम प्रधानों, ग्राम पंचायत अधिकारियों, राजस्व अधिकारियों के माध्यम से में वृहद प्रचार-प्रसार करवायें ताकि अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हो सकें। उन्होंने कहा कि अधिकारियों के भ्रमण के दौरान ग्राम स्तरीय, खण्ड स्तरीय, व जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहेंगे। उन्होंने बताया कि जिन शिकायतों का समाधान सम्भव न हो ऐसी शिकायतें जिला कार्यालय के प्रभारी अधिकारी (शिकायत) को उपलब्ध कराये साथ ही भ्रमण से संबंधित पंजीका का रख-रखाव व शिकायतों के पत्रालेख/प्रस्ताव उचित माध्यम से जिलाधिकारी को प्रस्तुत करेंगें। उन्होंने कहा कि भ्रमण के दौरान जनमानस को कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु सार्वजनिक स्थानों पर थूकना, गूटका, तम्बाकू का सेवन प्रतिबन्धित रखें, व नियमित रूप से मास्क पहनने, हाथ धोने व शत-प्रतिशत टीकाकरण को प्रेरित भी करते रहें।

spot_img

Latest

error: Content is protected !!