Monday, February 26, 2024
spot_img
spot_img

जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में परिवहन, यातायात पुलिस, सम्बन्धित उप जिलाधिकारी, लोक निर्माण विभाग और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्देश दिए

More articles

Vijaya Dimri
Vijaya Dimrihttps://bit.ly/vijayadimri
Editor in Chief of Uttarakhand's popular Hindi news website "Voice of Devbhoomi" (voiceofdevbhoomi.com). Contact voiceofdevbhoomi@gmail.com
- Advertisement -uttarakhand-ucc-ad-19-02-2024

देहरादून  :- जिलाधिकारी डाॅ आर राजेश कुमार की अध्यक्षता आयोजित जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में परिवहन, यातायात पुलिस, सम्बन्धित उप जिलाधिकारी, लोक निर्माण विभाग और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन क्षेत्रों में जिस तरह के वाहनों से और जिन कारणों से दुर्घटनाएं हुई उस लोकेशन में जाकर दुर्घटना के तकनीकी और व्यवहारिक कारणों को जानते हुए तत्काल सुधारीकरण करके दुर्घटनाओं की रोकथाम करें। दुर्घटनाओं के पीछे ओवर स्पीडिंग सबसे बड़ा कारण सामने आने से जिलाधिकारी ने एआरटीओ, यातायात पुलिस और सभी उप जिलाधिकारियों को एन्सफोर्समेंट की कार्यवाही बढाने और इन्फ्रास्ट्रक्चरल में तेजी से सुधार करने के निर्देश दिए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग डोईवाला और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को उनकी कार्यसीमा में अवशेष चिन्हित ब्लैक स्पाॅट को जल्दी ठीक करने तथा सभी उप जिलाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में विजिट करते हुए पैराफिट, रिफ्लैक्टर, स्पीड बे्रकर, ब्लैक स्पाॅट, चेतावनी बोर्ड इत्यादि का अवलोकन करते हुए सम्बन्धित विभाग से उसका सुधारीकरण करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विभिन्न स्थानों पर ब्लैक स्पाॅट, स्पीड ब्रेकर, पैराफिट, रिफ्लेक्टर, चेतावनी बोर्ड इत्यादी सुधारीकरण के कैसे परिणाम निकल रहे हैं इसका भी समय-समय पर परीक्षण किया जाय।
जिलाधिकारी ने शराब अथवा किसी भी प्रकार का नशा करके वाहन चलाने वालों, खनन क्षेत्र से सटे क्षेत्रों में अंधाधुंध डम्पर चलाने वालों, ओवर स्पीडिंग, रैश ड्राइविंग, बिना हैलमेट-सीट बैल्ट पहने, वाहन चलाने वालों पर विशेष निगरानी रखते हुए उन पर नियमानुसार कठोर चालान तथा वैधानिक कार्यवाही अमल में लाने के निर्देश दिए। उन्होंने लो.नि.वि को दुर्घटना संवेदनशील क्षेत्रों में हल्के स्पीड ब्रेकर लगाने, स्मार्ट सिटी की परिधि में चालान की कार्यवाही आॅनलाईन तरीके से तामिल करने, लोगों को दुर्घटनाओं की रोकथाम के प्रति जागरूकता अभियान चलाने तथा नियमों का पालन करने वाले अच्छे नागरिकों को सम्मानित करने की प्रक्रिया को अपनाने के निर्देश दिए।
इस दौरान सहायक परिवहन अधिकारी प्रशासन देहरादून अरविन्द पाण्डे ने जनपद में माह जनवरी 2021 से माह जून 2021 तक घटी दुर्घटनाओं से सम्बन्धित विवरण को प्रेजेन्टेशन के माध्यम से सड़क सुरक्षा समिति के समक्ष प्रस्तुत किया। जनपद में माह जनवरी 2021 से माह जून 2021 की अवधि मेंघटी कुल 130 दुर्घटनाअेां में 96 लोग घायल हुए हैं तथा 55 लोगों ने अपनी जान गवांई है। इस बीच दुर्घटनाओं के दृष्टिगत ऋषिकेश, नेहरू कालोनी, डोईवाला, पटेलनगर, रायवाला और डालनवाला थानें अधिक संवेदनशील रहे जहां दुर्घटनाएं अधिक घटित हुई। दुर्घटनाओं का सर्वाधिक कारण ओवर स्पीडिंग, रेश ड्राईविंग और गलत दिशा में वाहन चलाना रहा। इसी तरह जनपद में कुल 49 ब्लैक स्पाॅट चिन्हित किये गए थे, जिसमें से अभी तक 26 ब्लाॅक स्पाॅट पूरी तरह से ठीक किये जा चुके हैं तथा अवशेष 23 ब्लैक स्पाॅट पर लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग डोईवाला तथा राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा तात्कालिक सुधारीकरण के कार्य तो किये जा चुके हैं अवशेष दीर्घकालिक कार्य प्रगति पर हैं।
इस दौरान बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डाॅ योगेन्द्र रावत, अपर जिलाधिकारी प्रशासन वीर सिंह बुदियाल, पुलिस अधीक्षक यातायात स्वप्न किशोर, विभिन्न क्षेत्रों के उप जिलाधिकारी, विभिन्न क्षेत्रों के सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी, विभिन्न खण्डों के लो.नि.वि. व राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारी सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

विज्ञापन

spot_img
spot_img

Latest

error: Content is protected !!