Sunday, February 25, 2024
spot_img
spot_img

जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में वायु प्रदूषण रोकथाम तथा सभी निर्माण एवं परिचालन ईकाइयों को वायु गुणवत्ता मानकों के अन्तर्गत लाने के सम्बन्ध में वर्चुअल बैठक

More articles

Vijaya Dimri
Vijaya Dimrihttps://bit.ly/vijayadimri
Editor in Chief of Uttarakhand's popular Hindi news website "Voice of Devbhoomi" (voiceofdevbhoomi.com). Contact voiceofdevbhoomi@gmail.com
- Advertisement -uttarakhand-ucc-ad-19-02-2024

देहरादून  – दिनांक 22 जून 2021  जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में वायु प्रदूषण रोकथाम तथा सभी निर्माण एवं परिचालन ईकाइयों को वायु गुणवत्ता मानकों के अन्तर्गत लाने के सम्बन्ध में वर्चुअल बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में जिलाधिकारी ने परिवहन विभाग, यातायात पुलिस, नगर निगम, एमडीडीए, लोक निर्माण विभाग, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, खाद्य, आपूर्ति, फूड सेफ्टी, स्वास्थ्य विभाग, वन विभाग, जैसे सभी विभागों को वायु प्रदूषण की रोकथाम हेतु विभिन्न उपायों को इम्लिमेंन्ट करने तथा वायु गुणवत्ता मानकों के अन्तर्गत सभी क्रियाकलापों को संचालित करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने लोक निर्माण विभाग, पेयजल निगम, जल संस्थान जैसी कार्यदायी संस्थाओं तथा पुलिस, परिवहन विभाग, नगर निगम, एमडीडीए, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड जैसे एन्फोर्समेंट विभागों को वायु गुणवत्ता मानकों के अनुपालन हेतु बेहतर प्लान बनाने और उस पर अमल करने के निर्देश दिये। उन्होंने परिवहन विभाग को सभी प्रदूषण जांच केन्द्रों और इसकी समस्त गतिविधियों में सिंगल विण्डो सिस्टम लागू करने, ई-रिक्शा और ई-वाहन को बढावा देने, व्यक्तिगत परिवहन की जगह सार्वजनिक परिवहन को बढावा देने, व्यावसायिक वाहनों के फिटनेस को आटोमेटेड प्रक्रिया में लाने के लिए एम-फिटनेस एप्प से कनेक्ट करते हुए उसी अनुरूप माॅनिटिरिंग करने तथा पूरी परिवहन व्यवस्था में प्रदूषण निम्नीकरण की प्रक्रिया को बढावा देने के निर्देश दिये। इसके साथ ही पूर्ति विभाग के साथ मिलकर शहर में सीएनजी ईधन स्टेशन स्थापन के सम्बन्ध में होमवर्क करने और जन शिकायत निवारण प्रकोष्ठ स्थापित करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने नगर निगम देहरादून और ऋषिकेश तथा समस्त नगर पालिका परिषदों को निर्देशित किया कि डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन तथा शहर में बनाये गये कूड़ा कलेक्शन केद्रों से नियमित कूड़ा उठवायें तथा कूड़ा उठान वाले वाहन में अनिवार्य रूप से कूड़े को ढक्कर ही ले जायें। उन्होंने कहा कि इस बात को भी सुनिश्चित किया जाय कि शहर में कहीं पर भी कूड़ा अथवा प्लास्टिक को ना तो जलाया जाय ना ही निर्धारित किये गये कूड़ा कलेक्शन सेन्टर को छोड़कर किसी अन्य जगह पर लोगों द्वारा कूड़ा डंपिंग ना किया जाय। साथ ही एमडीडीए के समन्वय से पब्लिक सोसायटी, सार्वजनिक स्थलों, विद्यालयों, परिसरों, मुख्य सड़क किनारे व मध्य में, चैराहों और पार्कों में आवश्यकतानुसार छोटे-बडे़ वृक्षों-फूलों इत्यादि से लगातार सौन्दर्यीकरण का कार्य भी करवाया जाय। जिलाधिकारी ने लोक निर्माण के सभी खण्डों को निर्देशित किया कि वे इस बात को सुनिश्चित कर लें कि जहां पर भी निर्माण कार्य चल रहा हो वहां पर धूल अथवा किसी भी तरह का प्रदूषण ना होने पाये। इस तरह की व्यवस्था की जाय। उन्होंने सड़कों पर रेत-बजरी अथवा किसी भी सामग्री के पाये जाने पर सख्त चालान अथवा एन्फोर्समेंट की कार्यवाही के निर्देश दिये। उन्होंने अगली बैठक में सड़क के फूटपाथ, बाईपास, सड़क के दोनों ओर जहां-जहां सौन्दर्यीकरण की जरूरत है उसका प्रपोजल प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने एमडीडीए को निर्देशित किया कि शहर में जिन क्षेत्रों में पूर्व में पेड़ लगाये गये थे उनमें जहां भी ट्री-गार्ड अभी तक लगे हुए हैं उनको हटा दें तथा मकान का नक्शा पास करने के बाद सम्बन्धित व्यक्ति के आवास स्थल का निरीक्षण अनिवार्य रूप से करें कि वह व्यक्ति मकान निर्माण की सामग्री सड़क मार्ग अथवा सार्वजनिक स्थल पर डम्प तो नहीं कर रहा है। उसको सड़क-मार्ग अथवा सार्वजनिक स्थल पर निर्माण सामग्री डम्पिंग करने से रोंके साथ ही आवासीय नक्शे पास करने की सूचना नगर निगम को भी अवश्य दी जाय।
जिलाधिकारी ने यातायात पुलिस को शहर में यातायात की औटोमैटिक प्रबन्धन प्रणाली को लागातार जारी रखने तथा उसको समय के साथ और इनोवेटिव करने के निर्देश दिये। साथ ही यातायात लाईट के आॅन-आॅफ प्रक्रिया को तार्किक और व्यावहारिक बनाने को कहा। उन्होंने पूर्ति विभाग को सम्बन्धित विभागों के समन्वय से टीम बनाकर लगातार पेट्रोल पम्प का औचक निरीक्षण करने तथा उसमें किसी भी तरह की मिलावट की रोकथाम के निर्देश दिये। साथ ही मलिन बस्ती तथा ऐसी जगह जहां पर लोग यदि लकड़ी का ईधन जला रहे हों तो उस पर भी तत्काल रोक लगाने को कहा। उन्होंने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को अपेक्षा के अुनरूप एन्फोर्समेंट की कार्यवाही ना करने के चलते चेतावनी दी कि अपनी एन्फोर्समेंट की कार्यवाही बढायें तथा अगली बैठक में आशातीत प्रगति प्रस्तुत करेंगे।
इस दौरान बैठक में प्रभागीय वनाधिकारी देहरादून राजीव धीमान, अपर जिलाधिकारी वि/रा गिरीश चन्द्र गुणवंत, पूलिस अधीक्षक यातायात एस.के सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी जसंवत कण्डारी सहित लोक निर्माण विभाग, नगर निगम, एमडीडीए, वन विभाग, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

 

विज्ञापन

spot_img
spot_img

Latest

error: Content is protected !!